(रिपोर्ट@ईश्वर शुक्ला)                                        ऋषिकेश/समाचार भास्कर - ऋषिकेश के श्यामपुर क्षेत्र में एनडीएस स्कूल ने अपने 25 साल पूरे करने पर सिल्वर जुबली कार्यक्रम का आयोजन किया। जिसमें बतौर मुख्य अतिथि के रूप में उत्तराखंड के राज्यपाल गुरमीत सिंह पहुंचे। उन्होंने स्कूल के संस्थापक महंत बाबा राम सिंह महाराज और संत जोध सिंह महाराज की उपस्थिति में स्कूल के प्रतिभावान और टॉपर रहे 7 छात्रों को अपने हाथों से प्रशस्ति पत्र देकर उनकी हौसला अफजाई की। स्कूल के 15 अध्यापकों और कर्मचारियों को भी 25 साल तक रेगुलर अपनी सेवा देने पर सम्मानित किया। 


शुक्रवार को श्यामपुर के एमडीएस स्कूल में आयोजित कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे उत्तराखंड के राज्यपाल गुरमीत सिंह ने उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि शिक्षा के साथ संस्कार होने बहुत जरूरी है। जो एनडीएस स्कूल में दिए जा रहे हैं। उन्होंने निर्मल आश्रम और उसकी इकाई एनडीएस और एनजीए के साथ निर्मल आई इंस्टीट्यूट के द्वारा जनहित में किए जा रहे सराहनीय कार्यों की जमकर प्रशंसा भी की। उन्होंने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में दिशा देने का काम शुरू कर रहे हैं और एनडीएस में गुरु के दो रूप हैं है। पहले जहां शिक्षक गुरु है वही स्कूल के संस्थापक महंत बाबा राम सिंह महाराज और संत जोध सिंह महाराज भी गुरु के रूप में छात्रों को अपना आशीर्वाद समय-समय पर देने में लगे हैं। 


कार्यक्रम में उपस्थित महंत राम सिंह महाराज और महंत जोध सिंह महाराज ने बताया कि स्कूल के 25 साल पूरे होने पर मनाए जा रहे सिल्वर जुबली कार्यक्रम में राज्यपाल ने उपस्थित होकर सभी छात्रों का अपना आशीष दिया है। यह स्कूल के लिए गौरव की बात है। राज्यपाल के हाथों से होनहार छात्रों को जो प्रशस्ति पत्र मिले हैं वह इस बात के लिए और छात्रों को भी प्रेरित करेंगे कि वह भी और ज्यादा लगन और मेहनत से टॉप करने की कोशिश करें तो यह सम्मान उनको भी भविष्य में मिल सकता है।

मौके पर उत्तराखंड के गवर्नर को निर्मल आश्रम के महंत बाबा राम सिंह महाराज और संत जोध सिंह महाराज ने अपने हाथों से सरोपा और प्रतीक चिन्ह देकर उनको सम्मानित किया। इस दौरान राज्यपाल के हाथों से सम्मान पाने वाले अध्यापक कर्मचारी और छात्र खुशी से गदगद नजर आए ।  राज्यपाल के हाथों सम्मान पाने वाले छात्रों में अग्रिम प्रताप सिंह दीक्षा सकलानी अविका सेमवाल इशिका गोस्वामी सोनल नेगी श्रेया रावत आयुषी और अध्यापकों और कर्मचारियों में संध्या थापा नीरू अरोड़ा रंजना शर्मा नीरजा त्रिवेदी सीमा भगवती ममगाई ललिता कृष्णा स्वामी मनोहर सिंह रावत मुकुल तायल शम्मी पैन्यूली दिनेश सिंह जसपाल सिंह बिष्ट हरमनप्रीत सिंह तरनजीत सिंह बाबू सिंह शामिल रहे। इन दौरान सरदार नरेंद्र जीत सिंह बिंद्रा प्रधानाचार्य ललिता कृष्ण स्वामी सुनीता शर्मा अमृत पाल डंग दर्शन सिंह विक्रमजीत सिंह मदन मोहन शर्मा आत्म प्रकाश कोच्चर कर्मजीत सिंह विनोद विजलवान दिनेश शर्मा हैप्पी सिंह गुरदीप सिंह संदीप कुमार आदि उपस्थित रहे ।

Share To:

Post A Comment: