(रिपोर्ट@ईश्वर शुक्ला)                                ऋषिकेश/समाचार भास्कर - जनपद टिहरी गढ़वाल के मुनी की रेती थाना क्षेत्र अंतर्गत खारा स्रोत स्थित अंग्रेजी शराब के ठेके पर ओवर रेटिंग का खेलता हुआ नजर नहीं आ रहा है। एक के बाद एक शिकायत होने के बावजूद अभी तक ओवर रेटिंग के खिलाफ आबकारी विभाग कि कोई कार्रवाई होते हुए दिखाई नहीं दी है। जिससे आबकारी विभाग की कार्यशैली पर कई सवाल खड़े हो रहे हैं। स्थानीय लोगों के विरोध करने पर ठेके के कर्मचारी बदसलूकी और मारपीट करने से भी पीछे नहीं हट रहे हैं ऐसा ही एक मामला फिर से सामने आया है जब एक स्थानीय निवासी शराब लेने ठेके पर पहुंचा तो उसके साथ ओवर रेटिंग को लेकर पहले बदसलूकी की गई फिर हाथापाई की नौबत तक आ गई। स्थानीय निवासी विकास अग्रवाल ने पुलिस चौकी कैलाश गेट को तहरीर देकर मामले में कार्यवाही की मांग की है। 

      कैलाश गेट चौकी पुलिस को दी गई तहरीर में विकास अग्रवाल ने बताया कि वह 2 जुलाई को खारा स्रोत स्थित शराब के ठेके पर शराब खरीदने के लिए गए। इस दौरान हर ब्रांड पर निर्धारित मूल्य से अधिक वसूली करते हुए ठेके के कर्मचारी दिखाई दिए। खुद उन्होंने जब शराब की बोतल ली तो 10 से 20 रुपए अधिक चार्ज निर्धारित मूल्य से अधिक लिए गए। इस संबंध में जब उन्होंने अपना विरोध जताया तो ठेके के कर्मचारी बदसलूकी करने लगे। ठेके के बाहर आबकारी निरीक्षक तक का नंबर शिकायत दर्ज कराने के लिए उपलब्ध नहीं मिला। कर्मचारियों से जब आबकारी निरीक्षक का नंबर मांगा गया तो वह भड़क गए और हाथापाई करने के लिए उतारू हो गए। विकास अग्रवाल ने बताया कि शराब के ठेके के कर्मचारी लगातार इस प्रकार की बदसलूकी कर रहे हैं। इस संबंध में पहले भी कई लोग अपनी शिकायत दर्ज करा चुके हैं। बावजूद इसके शराब के ठेकेदार पर कोई कार्यवाही नहीं होने से ओवर रेटिंग का खेल जमकर खेला जा रहा है। विकास अग्रवाल ने पुलिस से मामले में ठेके के कर्मचारियों पर कार्रवाई करने की मांग की है। कैलाश गेट चौकी प्रभारी योगेश पांडे ने बताया कि मामले में तहरीर मिली है। जांच की जा रही है। जांच के बाद अग्रिम कार्रवाई की जाएगी। मामले में आबकारी इंस्पेक्टर ज्योति वर्मा का पक्ष जानने के लिए फोन किया गया परंतु उनसे बात नहीं हो पाई उनका पक्ष जानने के बाद प्रकाशित किया जाएगा ।

Share To:

Post A Comment: