(रिपोर्ट@ईश्वर शुक्ला)                                        ऋषिकेश/समाचार भास्कर - चार धाम यात्रा के दौरान तीर्थ यात्रियों को बेहतर सुविधाएं और व्यवस्थाएं मिले इसके लिए पंजीकरण की व्यवस्था सरकार ने की है। बावजूद इसके तीर्थयात्री बिना पंजीकरण के ही यात्रा मार्ग पर जा रहे हैं। जिससे यात्रा मार्ग और चारों धामों में अव्यवस्था फैल रही है। ऐसे में उत्तराखंड के डीजीपी अशोक कुमार ने व्यवस्था को बनाने के लिए जिम्मेदारी अपने कंधों पर उठा ली है। उन्होंने बिना पंजीकरण के किसी भी तीर्थ यात्री को यात्रा मार्ग पर नहीं भेजने के निर्देश जनपद टिहरी के पुलिस कप्तान को दिए हैं। 

दरअसल उत्तराखंड के डीजीपी अशोक कुमार शनिवार की दोपहर गंगोत्री मार्ग स्थित भद्रकाली चेकपोस्ट पहुंचे। उन्होंने यात्रा मार्ग पर जाने वाले वाहनों की व्यवस्था को देखा। अधीनस्थ पुलिस अधिकारियों से यात्रियों को दी जाने वाली सुविधाओं के बारे में फीडबैक भी लिया। डीजीपी ने बताया कि चारों धामों में बिना पंजीकरण के भी तीर्थयात्री जा रहे हैं। जिसकी वजह से यात्रा मार्ग और धामों में अव्यवस्था फैल रही है। इसलिए मौके पर मौजूद जनपद टिहरी के पुलिस कप्तान नवनीत भुल्लर को भद्रकाली चेक पोस्ट पर प्रत्येक वाहन की चेकिंग कराने के निर्देश दिए हैं। चेकिंग के दौरान जो भी तीर्थयात्री बिना पंजीकरण के मिलेंगे, उनको यात्रा मार्ग पर जाने की अनुमति नहीं दी जाएगी। बताया बद्रीनाथ मार्ग पर भी बयासी में भी यही व्यवस्था लागू करने के लिए कहा गया है। बताया कि केवल मई और जून के महीने में सभी तीर्थ यात्रियों को यात्रा कराना संभव नहीं है। उन्होंने तीर्थ यात्रियों से संयम बरतते हुए यात्रा पर आने की अपील की। कहा कि प्रत्येक तीर्थ यात्री को सुविधाजनक और सुरक्षित तरीके से यात्रा कराने के लिए पुलिस कटिबद्ध है। निरीक्षण के दौरान पुलिस कप्तान नवनीत भुल्लर, एसपी देहात देहरादून कमलेश उपाध्याय, सीओ सदर सुरेंद्र बलूनी, सीओ नरेंद्रनगर रविंद्र चमोली, सीओ ट्रैफिक अस्मिता ममगाई  थाना प्रभारी निरीक्षक रितेश शाह, एसएसआई रमेश कुमार सैनी, चौकी प्रभारी विकास शुक्ला आदि उपस्थित रहे।


रात को मालवाहक वाहन चढ़ेंगे पहाड़ । चारधाम यात्रा मार्ग पर लगातार बढ़ रहे ट्रैफिक के दबाव को कम करने के लिए भी डीजीपी अशोक कुमार ने अलग से व्यवस्था बना दी है। उन्होंने रात को पहाड़ी मार्ग पर मालवाहक वाहनों को जाने की छूट देने के निर्देश पुलिस को दे दिए हैं। शर्त यह रखी गई है कि कोई भी ड्राइवर नशे में नहीं होना चाहिए। इसके लिए भद्रकाली चेक पोस्ट पर चेकिंग की जाएगी। अब रात को 10 बजे से सुबह 4 बजे तक मालवाहक वाहन पहाड़ी मार्ग पर अपने गंतव्य की ओर जा सकेंगे। दिन में मालवाहक वाहनों के चलने पर प्रतिबंध रहेगा। डीजीपी अशोक कुमार ने बताया कि इस व्यवस्था से दिन में ट्रैफिक का दबाव काफी कम होगा। जिससे जाम की स्थिति नहीं बनेगी।

Share To:

Post A Comment: