(रिपोर्ट@ईश्वर शुक्ला)                                ऋषिकेश/नरेंद्र नगर/समाचार भास्कर - संविधान दिवस के अवसर पर नरेंद्र नगर कोर्ट परिसर में एडवोकेट कोर्ट कर्मचारी और पुलिसकर्मियों को संविधान के नियमों का पालन करने की शपथ दिलाई गई। यह शपथ सिविल जज जूनियर डिविजन शंभूनाथ सिंह सेठवाल ने दिलाई। 

शुक्रवार को संविधान दिवस के अवसर पर नरेंद्र नगर कोर्ट परिसर में एक गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें बतौर मुख्य अतिथि के रूप में सिविल जज जूनियर डिविजन शंभूनाथ सिंह सेठवाल उपस्थित हुए। उन्होंने कोर्ट कर्मचारियों एडवोकेट और समस्त पुलिसकर्मियों को सर्वप्रथम भारत के संविधान की प्रस्तावना पढ़कर सुनाई। संविधान से संबंधित नियमों की जानकारी भी दी। जिसके बाद नियमों का पालन करने के लिए संविधान की शपथ दिलाई गई। मौके पर सिविल जज जूनियर डिवीजन ने कहा कि हर वर्ष 26 नवंबर का दिन देश में संविधान दिवस के तौर पर मनाया जाता है। 26 नवंबर को राष्ट्रीय कानून दिवस के रूप में भी जाना जाता है। 26 नवंबर 1949 को देश की संविधान सभा ने वर्तमान संविधान को विधिवत रूप से अपनाया था। 26 नवंबर 1949 को लागू होने के बाद संविधान सभा के 284 सदस्यों मे 24 जनवरी 1950 को संविधान पर हस्ताक्षर किए। इसके बाद 26 जनवरी को इसे लागू कर दिया गया। भारत का संविधान दुनिया का सबसे बड़ा लिखित संविधान है। इसी आधार पर भारत को दुनिया का सबसे बड़ा गणतंत्र कहा जाता है। भारतीय संविधान में 448 अनुच्छेद, 12 अनुसूचियां शामिल हैं। यह 2 साल 11 महीने 18 दिन में बनकर तैयार हुआ था। कार्यक्रम में अधिवक्ता विकास उनियाल गुरविंदर सिंह लेखराज सिंह गणेश रतूड़ी रविंदर सिंह अर्जुन सिंह तनुजा रविंद्र सजवान मोहन भंडारी आदि उपस्थित रहे।

Share To:

Post A Comment: