(रिपोर्ट@ईश्वर शुक्ला)

ऋषिकेश/समाचार भास्कर - कोविड-19 की दूसरी लहर में मजदूर वर्ग ही नहीं बल्कि मध्यम वर्गीय परिवार भी आर्थिक तंगी से जूझ रहा है। ऐसे में ऑटो गैलरी के मालिक अलक्षेंद्र ने जरूरतमंदों की मदद करने का बीड़ा उठाया है।

कोविड-19 की पहली लहर में सैकड़ों जरूरतमंदों की मदद करने वाले ऑटो गैलरी के मालिक अलक्षेंद्र ने सैकड़ों जरूरतमंदों की मदद की थी। कोविड-19 की दूसरी लहर में भी अलक्षेंद्र ने अपने कदम मदद से पीछे नहीं खींचे हैं। एक महीने में ही अलक्षेंद्र ने सैकड़ों जरूरतमंदों को दवाइयां राशन ऑक्सीजन सिलेंडर मास्क सैनिटाइजर वितरित के हैं। खास बात यह है कि यह सब काम अलक्षेंद्र मीडिया के मंच से दूर होकर पर्दे के पीछे से कर रहे हैं। उनके इस जज्बे को हर कोई सलाम कर रहा है। अलक्षेंद्र ने बताया कि मुनिकीरेती स्थित कोविड सेंटर में उन्होंने 100 कंबल, 100 टेबल, 14 पंखे दो ऑक्सीमीटर कंसंट्रेटर उपलब्ध कराए हैं। इसके अलावा देहरादून के रायपुर में बने कोविड केयर सेंटर में भी कंबल चद्दर और अन्य सामग्री उपलब्ध करा दी है। बताया इस महामारी के बीच एक दूसरे की मदद करना ही इंसानियत का पहला फर्ज है। जिस फर्ज को वह पूरा करने की कोशिश कर रहे हैं। बताया शहर में कोई भूखा ना सोए इसके लिए भी लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। मध्यम वर्गीय परिवार भी इस समय आर्थिक स्थिति से परेशान हैं। ऐसे परिवार शर्म की वजह से सामाजिक संस्थाओं के आगे मुंह खोलने से भी बच रहे हैं। ऐसे परिवारों से वह निवेदन करते हैं यदि उनके सामने दवाइयों राशन या अन्य किसी भी सामग्री की परेशानी है तो वह उनसे संपर्क कर सकते हैं। पर्दे के पीछे से जितनी भी मदद होगी वह हर संभव प्रयास करेंगे। अपनी जान की परवाह किए बगैर जिस तरीके से अलक्षेंद्र लोगों तक खुद मदद पहुंचाने में लगे हैं। उनके इस जज्बे को हमारे समाचार भास्कर की टीम की ओर से भी सलाम।

Share To:

Post A Comment: