ऋषिकेश/समाचार भास्कर -  चंद्रेश्वर नगर स्थित एक आश्रम पर कब्जे को लेकर दो पक्षों में विवाद हो गया। मामले में दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर आश्रम पर कब्जा करने का आरोप लगाया। हंगामा हुआ तो पुलिस मौके पर पहुंची। फिलहाल पुलिस ने दोनों पक्षों को झगड़ा नहीं करने की नसीहत दी है। 


शुक्रवार की शाम चंद्रेश्वर नगर स्थित श्री राम हनुमान वाटिका आश्रम पर कब्जे की नियत से दो पक्षों में विवाद हो गया। एक पक्ष के दो बाबाओ ने जहां आश्रम में रहने की बात कहते हुए पूर्व सभासद तेज बहादुर यादव पर आश्रम पर कब्जा करने का आरोप लगाया। वहीं तेज बहादुर यादव ने वर्ष 2003 में आश्रम खरीदने के बाबत जानकारी देते हुए अपने कागज प्रस्तुत किए, मगर कागज ना तो रजिस्ट्री थी नाही नोटरी करा हुआ स्टांप पेपर। केवल स्टांप पेपर पर खरीद-फरोख्त की बात लिखी हुई थी। जिसे आश्रम में रहने वाले बाबाओं ने मानने से इनकार कर दिया। हंगामा हुआ तो मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद झगड़ा नहीं करने की नसीहत दी। मामले में खुद ही वाद विवाद सुलझाने का सुझाव भी दिया।



 पूर्व सभासद तेज बहादुर यादव ने बताया कि वर्ष 2003 के बाद से वह लगातार हाउस टैक्स बिल जमा कर रहे हैं। कुछ लोगों के बहकावे में आकर उन पर कब्जा करने का आरोप लगाया जा रहा है। जो बेबुनियाद है।

Share To:

Post A Comment: