ऋषिकेश/समाचार भास्कर - शिवपुरी रेंज के सीलण क्षेत्र में गुर्जर परिवारों ने वन भूमि पर अवैध कब्जे कर लिए हैं। जिन्हें हटाने की कोशिश वन विभाग के द्वारा होती नजर नहीं आ रही है। नतीजा यह है कि केवल सर्दियों के मौसम का परमिट लेकर गुर्जर 6 साल से एक ही भूमि पर काबिज है। 


ज्ञात हो कि शिवपुरी के सीलण क्षेत्र में पिछले 6 साल से कई गुर्जर परिवार अपने स्थाई ठिकाने बनाकर रह रहे हैं। जबकि गुर्जर परिवारों को केवल सर्दियों के मौसम के दौरान जानवरों को जुगान और रहने की अनुमति वन विभाग के द्वारा दी गई थी। यही नहीं गुर्जर परिवारों ने बाहर से गुर्जरों को बुलाकर भी अवैध रूप से कब्जे करवाने शुरू किए हैं। वर्तमान समय में सीलण के पास 20 से अधिक गुर्जर परिवार अपना कब्जा जमाए हुए हैं। जिन्होंने बिजली के कनेक्शन भी ले लिए हैं। वर्तमान समय में गुर्जर परिवार पेयजल का कनेक्शन लेने के लिए भी प्रयास करते नजर आ रहे हैं। कई सालों तक गुज्जर परिवारों को नहीं हटाए जाने का मामला उजागर हुआ तो स्थानीय लोगों ने वन क्षेत्र अधिकारी को पत्र भेजकर गुर्जरों को हटाने की मांग की है। सोमवार को इस संबंध में स्थानीय निवासी डीएफओ से भी मुलाकात करेंगे। 6 साल तक गुर्जरों पर कार्रवाई नहीं होने से कई प्रकार के सवाल भी वन विभाग के खिलाफ खड़े हो रहे हैं। सूत्रों की माने तो सफेदपोश नेताओं की शह पर गुर्जर परिवारों को हटाने की जहमत वन विभाग नहीं उठा रहा है। वहीं इस मामले में वन क्षेत्राधिकारी बी.पी बधानी ने बताया कि मामला संज्ञान में है। गुर्जरों को जगह खाली करने के लिए नोटिस जारी किए गए हैं। यदि समय सीमा में गुर्जर परिवार जमीन खाली नहीं करते तो नियमानुसार कार्यवाही करते हुए उनसे जमीन खाली कराई जाएगी।

Share To:

Post A Comment: