ऋषिकेश/समाचार भास्कर - तपोवन क्षेत्र में एक नहीं दो नहीं बल्कि आधा दर्जन से अधिक स्थानों पर अवैध निर्माण कार्य चल रहे हैं। मगर विकास प्राधिकरण अवैध निर्माण के खिलाफ कार्रवाई करता नजर नहीं आ रहा है। जिससे अवैध निर्माण करने वालों के हौसले लगातार बुलंद हो रहे हैं। 

तपोवन क्षेत्र में अवैध निर्माण होना कोई नई बात नहीं है। मगर शिकायत के बावजूद यदि विकास प्राधिकरण अवैध निर्माण पर कार्रवाई ना करें, तो सवाल उठना लाजमी है। तपोवन क्षेत्र में एक नहीं दो नहीं बल्कि आधा दर्जन से अधिक स्थानों पर वर्तमान समय में अवैध निर्माण चल रहे हैं। जिनकी शिकायत भी लगभग एक महीने से लगातार हो रही है। इस संबंध में कई बार समाचार पत्रों में खबरें भी प्रकाशित हो चुकी हैं। जिसमें संबंधित विकास प्राधिकरण के अधिकारियों ने कार्रवाई करने का आश्वासन भी दिया है। मगर लंबा समय बीतने के बाद भी अवैध निर्माण बदस्तूर जारी है, लेकिन विकास प्राधिकरण के अधिकारी कहीं भी कार्रवाई करते हुए नजर नहीं आ रहे हैं। जिससे अवैध निर्माण करने वालों के हौसले लगातार बुलंद हैं। हम आपको दो तस्वीरें दिखा रहे हैं। जिनमें नियमों का उल्लंघन करते हुए बड़ी-बड़ी इमारतें खड़ी की जा रही हैं। कार्रवाई नहीं होने से क्षेत्र में इस बात की भी चर्चा है कि अवैध निर्माण करने वालों की विभाग के अधिकारियों के साथ बेहतर सांठगांठ है। विभाग पर उठ रही अंगुलियों का जवाब देने वाला भी कोई अधिकारी सामने नहीं आ रहा है।

इस संबंध में जब फिर से प्राधिकरण के अधिकारी........... से बात की गई तो उन्होंने अधीनस्थ अधिकारियों को मौके पर भेजकर मामले की जांच कराने के लिए फिर से अपनी बात दोहराई है। अब देखना यह होगा कि आखिरकार इस बार भी अधिकारी के द्वारा दिया गया आश्वासन कोरा साबित होता है या अवैध निर्माण करने वालों के खिलाफ कार्रवाई होती नजर आती है।

Share To:

Post A Comment: