ऋषिकेश/समाचार भास्कर - महान संतों की याद में शब्द कीर्तन का आयोजन निर्मल आश्रम ज्ञानदान एकेदमी में किया गया। जिसका शुभारंभ निर्मल आश्रम के संस्थापक महंत राम सिंह महाराज और संरक्षक संत जोध सिंह महाराज ने दीप प्रज्वलित करके किया। 

          सोमवार को श्यामपुर स्थित निर्मल आश्रम ज्ञान दान एकेदमी के सभागार में कार्यक्रम का आयोजन हुआ। जिसमें सर्वप्रथम स्कूल की प्रधानाध्यापिका अमृतपाल डंग ने संस्थापक और संरक्षक का स्वागत किया पुष्प भेंट कर अभिनंदन किया। इस दौरान स्कूल के छात्रों ने रब है करुणानिधि शब्द गायन प्रस्तुत करके संतों का दिल जीत लिया। वही गिरधर बसे हो हर जन प्यारे शब्द के गायन पर संतो ने तालियां बजाकर छात्रों की हौसला अफजाई की। भक्ति रस में लीन होकर प्रस्तुत किए जा रहे कीर्तन को दरबार में उपस्थित संतो ने जहां बेहद पसंद किया। वही छात्रों ने भी कीर्तन का रसपान कर अपने जीवन में कुछ समय प्रभु के लिए निकालने का संकल्प लिया। मौके पर महंत राम सिंह महाराज ने ऑनलाइन प्रतियोगिता में भाग लेने वाले प्रतिभागियों को आशीर्वाद दिया वही प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली मानसी तिवारी द्वितीय आयशा रावत को पुरस्कार और आशीर्वाद दिया। कार्यक्रम का संचालन गुरजिंदर सिंह ने किया कार्यक्रम में सरदार परमजीत सिंह मनमीत सिंह विक्रमजीत सिंह कर्मजीत सिंह डॉ. अजय शर्मा अनिल शर्मा डॉक्टर आसिफ खान बाबा आत्मप्रकाश कोचर अनिल किंगर आदि उपस्थित रहे।

Share To:

Post A Comment: