ऋषिकेश/समाचार भास्कर - मुनी की रेती थाना पुलिस ने फरीदाबाद निवासी जोत प्रसाद की शिकायत पर खुद को जिला पंचायत सदस्य बताने वाले पूरन पुंडीर के खिलाफ ब्लैकमेल करने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।
      मुनी की रेती थाना पुलिस के अनुसार फरीदाबाद निवासी जोत प्रसाद पुत्र सत्यनारायण ने मुनी की रेती थाना पुलिस को तहरीर देकर बताया कि 10 जुलाई को उसके व्हाट्सएप पर खनन सामग्री से भरे ट्रकों के कुछ वीडियो प्राप्त हुए। जिस व्यक्ति ने वीडियो भेजी उससे संपर्क किया तो उसने अपना नाम पूरन पुंडीर जिला पंचायत सदस्य बताया। वीडियो भेजने का मकसद पूछा तो पूरन पुंडीर ने इस संबंध में आमने-सामने बैठकर वार्ता करने की बात कही। तय समय पर पूरन पुंडीर ने अपने एक साथी के साथ आनंदम होटल में जोत प्रसाद के साथ मुलाकात की। जहां पूरन पुंडीर ने खनन के ट्रकों में रॉयल्टी में छूट देने की बात कही। जिस पर खनन का कारोबार करने वाले जोत सिंह ने रजामंदी जाहिर की। मगर कुछ देर बाद ही पूरन पुंडीर ने फोन कर ट्रक चलाने के लिए ₹50 प्रति ट्रक उन्हें देने की मांग की। बात नहीं मानने पर काम रुकवाने की धमकी भी दी। मुनी की रेती थाने के इंस्पेक्टर आरके सकलानी ने बताया कि मामले में पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। मुकदमे की विवेचना तपोवन चौकी प्रभारी सुनील पंत को सौंपी गई है। सीसीटीवी फुटेज और कॉल रिकॉर्ड भी पुलिस ने अपने कब्जे में लिए हैं। बताया जांच पूरी होते ही मामले में अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।
Share To:

Post A Comment: