ऋषिकेश/समाचार भास्कर - निर्मल आश्रम ज्ञान दान एकेडमी में मेधावी छात्रों को स्कूल के संस्थापक महंत राम सिंह महाराज और संत जोत सिंह महाराज ने सम्मानित किया। इस दौरान छात्रों को उपहार के साथ चेक भी वितरित किए गए
  निर्मल आश्रम ज्ञान दान एकैडमी में छात्रों की हौसला अफजाई के प्रिय कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसका शुभारंभ स्कूल के संस्थापक महंत राम सिंह महाराज और संत जोत सिंह महाराज ने दीप प्रज्वलित करके किया। दोनों संतो ने कहा कि मेधावी छात्रों को सम्मानित करने का मौका मिलना भी एक बड़ी बात है। सम्मान मिलने से जहां छात्रों का हौसला बढ़ता है। वहीं जो छात्र इस पायदान पर नहीं पहुंचे हैं उनको भी आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहन मिलता है। कहा कि यह केवल सम्मान नहीं बल्कि छात्रों के उज्जवल भविष्य के लिए एक आशीर्वाद भी है। छात्रों ने जिस प्रकार कड़ी मेहनत कर स्कूल का परीक्षा परिणाम शत प्रतिशत रखा उससे स्कूल का नाम पूरे जनपद में रोशन हुआ है।
 उन्होंने छात्रों से और अधिक मेहनत कर अच्छे अंक प्राप्त करने के लिए कहा है। मौके पर संतो ने कहा कि स्कूल शुरू से ही गरीब और जरूरतमंद छात्रों को निशुल्क शिक्षा उपलब्ध करा रहा है। वर्तमान समय में वैश्विक महामारी चल रही है। यदि किसी छात्र को किसी भी प्रकार की परेशानी होती है तो वह प्रिंसिपल से संपर्क कर अपनी समस्या के समाधान के लिए कह सकते हैं। स्कूल की ओर से पूरी मदद करने की कोशिश की जाएगी। पत्रकारों से वार्ता करते हुए उन्होंने बताया कि प्रिंसिपल और अध्यापकों को खास निर्देश दिए गए हैं कि ऑनलाइन पढ़ाई कराते समय किसी भी प्रकार से छात्रों के ऊपर पढ़ाई का दबाव ना बनाया जाए। क्योंकि ऑनलाइन पढ़ाई हमारे देश की संस्कृति में कभी नहीं रही। वर्तमान समय में मजबूरी के कारण इस प्रकार की शिक्षा छात्रों को दी जा रही है। इस मौके पर प्रधानाचार्य रणवीर सिंह नेगी, प्रधानाध्यापिका अमृत पाल डंग, जी.एम., एन. ई. आई. अजय शर्मा, बाबू आत्म प्रकाश जी, सोहन सिंह कैंतूरा एवं विनोद कुमार बिजलवान आदि उपस्थित रहे।
Share To:

Post A Comment: