ऋषिकेश/समाचार भास्कर - क्रेजी फेडरेशन के अध्यक्ष मनीष डिमरी भी एक सच्चे कोरोना योद्धा है। उन्होंने लॉक डाउन के दौरान न सिर्फ जरूरतमंदों का पेट भरा बल्कि निराश्रित पशुओं की भूख का भी पूरा ख्याल रखा। इसी के साथ क्षेत्र की तमाम समस्याओं को उन्होंने अपने निजी स्तर से समाधान करके क्षेत्रवासियों का दिल जीता हुआ है। ऐसे कोरोना योद्धा को हमारी टीम की ओर से सलाम।
        करोना महामारी के चलते मुनी की रेती क्षेत्र में प्रत्येक सामाजिक व्यक्ति ने अपने स्तर से कहीं ना कहीं जरूरतमंदों की मदद करने की कोशिश की है। ऐसे ही पर्दे के पीछे छिपकर मददगार बनने वाले क्रेजी फेडरेशन के अध्यक्ष मनीष डिमरी कोरोना योद्धा से कम नहीं है। उन्होंने जरूरतमंदों को जहां राशन और भोजन उपलब्ध कराया, वहीं निराश्रित पशुओं का पेट भरने से भी उनकी संस्था पीछे नहीं हटी। सफाई कर्मियों की हौसला अफजाई के लिए उन्होंने सम्मान किया। नगरपालिका के साथ मिलकर स्थानीय स्तर पर करोना के खिलाफ लोगों को जागरूक करने का प्रयास भी किया। बीमारी की हालत में परेशान लोगों को अस्पताल और एम्स पहुंचाने तक में भी उन्होंने अपनी ओर से कोई कमी नहीं रखी। इसी के साथ क्षेत्र की कई समस्या भी प्रशासन तक पहुंचा कर उन्होंने समाधान करने के प्रयास किए हैं। हमारी टीम ऐसे सच्चे करोना योद्धा को दिल से सलाम करती है। मनीष डिमरी ने बताया कि मनुष्य के मनुष्य के काम आता है। यह तो प्राचीन काल से नियति चली आ रही है। यदि दुख के समय पर लोग एक दूसरे के साथ खड़े नहीं होंगे तो इंसान और जानवर में क्या फर्क रह जाएगा। जो सक्षम है उसको मनुष्य जाति के हित में कार्य करते रहने चाहिए। भविष्य में भी उनसे और उनकी संस्था के द्वारा जनहित में जो भी अहम कदम उठाए जा सकेंगे उसके लिए वे पीछे नहीं हटेंगे।
Share To:

Post A Comment: