ऋषिकेश/ समाचार भास्कर - लॉक डाउन के दौरान स्थानीय लोगों के साथ पुलिस निराश्रित जानवरों का ख्याल भी रख रही है। इसका नजारा उस समय देखने को मिला जब तपोवन चौकी प्रभारी विनोद कुमार लोगों से यह कहते हुए दिखाई दिए कि कोई भी व्यक्ति बचा हुआ भोजन सड़क पर ना फेंके। वह बाजार में सामान खरीदने के दौरान बचा हुआ भोजन चौकी में दे दें। जिससे कि उस भोजन से निराश्रित जानवरों की भूख शांत की जा सके। उनकी इस अपील पर कुछ लोगों ने पहल भी कर दी है।
           गुरुवार को चौकी प्रभारी तपोवन विनोद कुमार ने शिवपुरी, गुल्लर, व्यासी, गट्टू गॉड,  गरुड़ चट्टी, फूल चट्टी, दिवली, पावकी देवी, कोडियाला आदि क्षेत्रों से राशन व दैनिक जरूरत का सामान खरीदने ऋषिकेश आने वाले सभी नागरिकों से अनुरोध किया कि वह अगले दिन घर से आए तो रात की बची हुई रोटी भी लेकर आएं और चौकी तपोवन बैरियर पर जमा कर दें। जिसे पुलिस अपने माध्यम से क्षेत्र में घूमने वाली गाय व अन्य पशुओं को खाने के लिए देंगे। उन्होंने बताया कि बाजारों के बंद हो जाने से बाजार में रहने वाले रहने वाली गाय कुत्ते व अन्य जानवर भी भूखे हैं। जब बाजार खुले थे तो होटल वाले और अन्य दुकानदार इन पशुओं को खाना दे देते थे, लेकिन अब  लॉकडाउन की वजह से भूखे हैं। चौकी प्रभारी के आह्वान करने पर तपोवन निवासी  समाजसेवी शंकर राय अभिषेक धर्मेंद्र नौटियाल  वेद प्रकाश मैथानी व उनके सहयोगी मदद करने के लिए आगे आए। उन्होंने ऋषिकेश से पशुओं के लिए चारा खरीदा और तपोवन के विभिन्न क्षेत्रों अलग-अलग स्थानों में पशुओं के लिए चारा डाला। समाजसेवी शंकर राय व उनके सहयोगियों ने तपोवन चित्र के सभी क्षेत्रवासियों से अनुरोध किया कि वह अपने घर में दो दो रोटी ज्यादा बनाए ताकि इस प्रकार से भी हम इन पशुओं के लिए भोजन एकत्र कर सकते है।
Share To:

Post A Comment: