ऋषिकेश/समाचार भास्कर - एम्स में गुरुद्वारा श्री हेमकुंड साहिब के द्वारा चलाए जा रहे गुरु के लंगर का एक वर्ष पूर्ण होने पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें नगर निगम की महापौर अनीता ममगाई ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की।
आपको बता दें कि 26 जनवरी 2019 को एम्स में मरीजों के तीमारदारों के लिए गुरुद्वारा श्री हेमकुंड साहिब ने लंगर चलाना शुरु किया था। वर्तमान समय में एक साल पूरा होते-होते गुरु का लंगर तीन टाइम एम्स में चलाया जा रहा है। सुबह का नाश्ता दिन और रात के समय खाने की भरपूर व्यवस्था की जा रही है। एक वर्ष पूर्ण होने पर सोमवार को कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें नगर निगम की महापौर अनीता ममगाई बतौर मुख्य अतिथि के रुप में पहुंची। उन्होंने गुरु की सेवा पर हर्ष व्यक्त करते हुए कहा कि गुरुद्वारे की ओर से यह एक बेहद ही सराहनीय कार्य किया जा रहा है। निस्वार्थ भाव से जो सेवा मरीजों के तीमारदारों कि की जा रही है उसके जितनी प्रशंसा की जाए वह कम है। मौके पर एम्स के निदेशक प्रोफेसर रविकांत ने कहा कि प्रतिदिन गुरु के लंगर में 2000 से अधिक लोग पहुंच रहे हैं। एम्स जहां लोगों को सस्ते दरों पर इलाज दे रहा है। वही गुरुद्वारा श्री हेमकुंट साहिब फ्री में भोजन पानी की व्यवस्था कर मरीजों की मदद कर रहा है। गुरद्वारा श्री हेमकुंट साहिब के उपाध्यक्ष नरेंद्र जीत सिंह बिंद्रा में कहा कि मानव सेवा ही सबसे बड़ी सेवा है। इसलिए सभी गुरुद्वारों में निरंतर भोजन पानी की व्यवस्था पहुंचने वाले लोगों के लिए रहती है।
एम्स में भी यह व्यवस्था निरंतर एक साल से चल रही है और भविष्य में भी चलती रहेगी। इसके प्रयास किए जा रहे हैं। बताया लंगर के दौरान दाल सब्जी रोटी मीठा सलाद आदि पकवान परोसे जाते हैं। जिससे एम्स में इलाज के लिए आने वाले मरीजों के तीमारदारों को किसी भी परेशानी का सामना ना करना पड़े। इसी के साथ लंगर से पहले अरदास कर मरीजों के स्वास्थ्य लाभ की कामना भी गुरु से की जाती है।
Share To:

Post A Comment: