ऋषिकेश/ समाचार भास्कर - पर्यावरण संरक्षण और स्वच्छता के लिए लगातार पॉलिथीन को बंद करने की अपील शासन और प्रशासन स्तर से की जा रही है। लेकिन बेहतर विकल्प नहीं मिलने से लोग पॉलिथीन का प्रयोग करने से पीछे नहीं हट रहे हैं। अब एक कंपनी ने ऐसे पदार्थ से पॉलिथीन का विकल्प बनाया है जो पानी में आसानी से घुल सकता है और कचरे में पहुंचने के बाद 3 दिनों में खाद के रूप में बदल सकता है। जल्द ही नगर निगम ऋषिकेश अब संबंधित पदार्थ से बनी उत्पादों का प्रचार प्रसार कर लोगों को पॉलिथीन छोड़ने के प्रति जागरूक करेगा।

   इस संबंध में पर्यावरणविद विमल नेगी ने पत्रकार वार्ता की। जिसमें बताया कि स्टार्च प्रोडक्ट के माध्यम से गिलास चम्मच पत्तल और अन्य चीजें बनाए जा रहे हैं। बताया कि यह प्रोडक्ट पर्यावरण संरक्षण के लिए भी बेहतर है। नमूना दिखाते हुए बताया कि पानी में पॉलिथीन नहीं घुलती है। जबकि स्टार्च पदार्थ से बने प्रोडक्ट पानी में डालते ही घुल जाते हैं। यदि जानवर भी इस पदार्थ के बने प्रोडक्ट को कचरे में निगल लेते हैं तो उनको भी नुकसान नहीं होगा। कचरे में यह 2 से 3 दिन के अंदर खाद बन जाएगा। बताया इस संबंध में उन्होंने मेयर अनीता ममगाई से भी मुलाकात की है। जिससे कि स्टार्च पदार्थ से बने प्रोडक्ट का नगर निगम स्तर से प्रचार-प्रसार हो सके। बताया मेयर ने जल्द ही इस संबंध में उन्हें सपोर्ट करने की बात कही है। बताया वह अपने स्तर से भी लगातार प्रचार प्रसार कर लोगों को पॉलिथीन का प्रयोग नहीं करने की अपील करते हुए इस पदार्थ से बने प्रोडक्ट को यूज़ करने की अपील कर रहे हैं। इस दौरान विनोद जुगरान राजू थपलियाल आदि मौजूद थे ।
Share To:

Post A Comment: