ऋषिकेश/समाचार भास्कर - निर्मल दीपमाला पब्लिक स्कूल का 23 वां वार्षिकोत्सव धूमधाम से मनाया गया। इस दौरान सांस्कृतिक कार्यक्रमों की धूम रही।
      बुधवार को स्कूल में वार्षिकोत्सव के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि ब्रिगेडियर आकाश बजाज आश्रम के महाराज संत जोत सिंह प्रधानाचार्य ललिता कृष्णा स्वामी निर्मल आश्रम के सीईओ  अर्जन गुरुबकच्छानी दीप प्रज्वलित करके किया। मुख्य अतिथि ने कहा कि यह सौभाग्य का मौका है कि उनको ज्ञान की देवी के इस स्कूल में मुख्य अतिथि के रुप में उपस्थित होने का मौका मिला है। उन्होंने छात्रों से मन लगाकर पढ़ाई करने का आह्वान किया। कहा कि पढ़ाई ही जीवन का मुख्य उद्देश्य होना चाहिए। क्योंकि पढ़ाई के बिना जीवन काला अक्षर भैंस बराबर हो जाता है। इसलिए छात्रों को बेहद मेहनत और ईमानदारी से पढ़ाई करके अपना फ्यूचर बनाना चाहिए। इस दौरान विद्यालय के संस्थापक महंत राम सिंह महाराज ने मुख्य अतिथि को सरोपा और स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया। मौके पर सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए गए। जिसमें सर्वप्रथम सरस्वती वंदना प्रस्तुत की गई। गढ़वाली और कत्थक नृत्य को देखकर उपस्थित दर्शकों ने खूब तालियां बजाई। इस दौरान विभिन्न खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन भी किया गया। जिसमें अव्वल आने वाले छात्रों को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के अंत में स्कूल की वार्षिक पत्रिका दीक्षा का विमोचन भी किया गया। इस दौरान संत राम सिंह महाराज ने कहा कि स्कूल लगातार छात्रों को बेहतर शिक्षा देकर उन्नति की ओर बढ़ रहा है। छात्र भी अपनी मेहनत से पढ़ाई करके स्कूल का नाम शहर ही नहीं बल्कि पूरे राज्य में रोशन कर रहे हैं। यह उनके लिए गर्व की बात है। महंत संत जोत सिंह महाराज ने कहा कि उन्हें फक्र होता है कि जिस उद्देश्य से इस स्कूल की स्थापना की गई थी आज वह उद्देश्य पूरा होता दिखाई दे रहा है। छात्र आज अच्छी पढ़ाई करके आकाश की बुलंदियों को छू रहे है। यह स्कूल ही नहीं बल्कि पूरे शहर के लिए गर्व की बात है। उन्होंने छात्रों से और अधिक मेहनत और लगन से पढ़ाई करके स्कूल का नाम पूरे देश में रोशन करने की बात कही है। मौके पर विक्रमजीत अनिल किंगर चरणजीत सिंह चंद्र भूषण जैन रणवीर सिंह नेगी अमृतपाल ढंग अजय शर्मा अनीता रतूड़ी नीरज द्विवेदी मनीषा मंजुल पवनदीप कौर आदि उपस्थित रहे।


Share To:

Post A Comment: