ऋषिकेश/समाचार भास्कर - ऋषिकेश में संचालित होने वाले तिपहिया वाहन संचालकों की यूनियनो में नए वाहनों को एंट्री नहीं दी जा रही है। जिससे नए वाहन चालक परेशान हैं। संचालकों ने यूनियनों के पदाधिकारियों पर उत्पीड़न करने का आरोप लगाया है। इस मामले में उन्होंने अपनी नई यूनियन का गठन करने के बाद राज्य मंत्री कृष्ण कुमार सिंघल से मुलाकात कर नए स्टैंड के लिए जगह उपलब्ध कराने की मांग की है।
        शुक्रवार को ऋषि गंगा विक्रम यूनियन का गठन करने के बाद पहली बार नए तिपहिया वाहनों के संचालक अध्यक्ष वीरेंद्र भारद्वाज के नेतृत्व में राज्य मंत्री कृष्ण कुमार सिंघल से मिलने पहुंचे। इस दौरान उन्होंने अपनी समस्या से अवगत करते हुए बताया कि शहर में संचालित होने वाले तिपहिया वाहन संचालकों की यूनियन नए वाहनों को एंट्री नहीं दे रही है। जिससे उनके वाहन संबंधित यूनियन के स्टैंड से संचालित नहीं हो पा रहे हैं। इस कारण उनका उत्पीड़न हो रहा है। सड़कों पर सवारियां बैठाने पर पुलिस की प्रताड़ना भी झेलनी पड़ रही है। मजबूरी में उन्हें अपनी नई यूनियन का गठन करना पड़ा है। अब उनके वाहनों को संचालित करने के लिए एक निर्धारित स्थान की जरूरत है। मामले में राज्य मंत्री कृष्ण कुमार सिंघल ने एसडीएम नरेंद्र नगर से दूरभाष पर वार्ता की। बताया कि एसडीएम को उन्होंने समस्या का समाधान करने के लिए निर्देश दिए हैं। राम झूला और लक्ष्मण झूला विक्रम स्टैंड पर उनके वाहन खड़े हो सके इसके लिए व्यवस्था बनाने के लिए कहा गया है। अध्यक्ष वीरेंद्र भारद्वाज ने बताया कि राज्य मंत्री के आश्वासन और एसडीएम से हुई वार्ता के बाद समस्या का समाधान होने की उम्मीद जागी है।




Share To:

Post A Comment: