ऋषिकेश/समाचार भास्कर - वीरभद्र रोड पर पुलिस और बिल्डरों के बीच उस समय हंगामा हो गया जब पशुपालन विभाग अपनी जमीन पर कब्जा लेते हुए चार दिवारी करने के लिए पहुंचा। इस दौरान बिल्डरों ने कार्रवाई का विरोध किया।
शनिवार की सुबह पशुपालन विभाग के अधिकारी वीरभद्र रोड स्थित एक जमीन पर अपना हक जताते हुए कब्जा लेने के लिए पहुंचे। इसके लिए बकायदा चारदीवारी के लिए मैटेरियल से भरे ट्रक भी साथ पहुंचे। इस दौरान भनक लगते ही बिल्डर मौके पर पहुंच गए। उन्होंने प्रशासन की कार्रवाई का विरोध किया। आरोप लगाया कि प्रशासन गुंडागर्दी कर रहा है। कहा कि पुनर्वास विभाग ने जमीनों का अलॉटमेंट किया है। अब पशुपालन विभाग किस आधार पर यह जमीन अपनी बता रहा है। आरोप लगाया कि पशुपालन विभाग इस संबंध में किसी भी प्रकार की कोई कागज भी प्रस्तुत नहीं कर रहा है। जबकि यहां रह रहे लोगों के पास जमीन की रजिस्ट्री और अलर्टमेंट कागज मौजूद है। स्थिति तनावपूर्ण देखते हुए मौके पर भारी पुलिसकर्मी बुला लिए गए। बिल्डरों ने कार्रवाई का विरोध किया तो पुलिस के साथ उनकी बहस हो गई। तभी कुछ महिलाएं आत्महत्या करने की धमकी देती हुई एक बिल्डिंग की छत पर चढ़ने लगी। जिन्हें महिला पुलिसकर्मियों ने बमुश्किल नीचे उतारा। घटना के बाद स्थिति तनावपूर्ण हो गई। शाम के समय बिल्डरों और पुलिस के बीच धक्का-मुक्की भी हुई।
        
Share To:

Post A Comment: