ऋषिकेश/समाचार भास्कर - मुनी की रेती थाना इंस्पेक्टर आरके सकलानी ने छात्रों को फ्यूचर बनाने के लिए टिप्स दिए है। बताया कि इंटरनेट के इस युग में यदि इंटरनेट का सही इस्तेमाल किया जाए तो वह जीवन के लिए उपयोगी सिद्ध होता है। लेकिन इसका दुरुपयोग यदि किया जाए तो जीवन बर्बाद होने लगता है इसलिए इंटरनेट का प्रयोग सोच समझ कर करना चाहिए।

           सोमवार को ओमकारानंद इंस्टिट्यूट में बच्चों को कैरियर के प्रति जागरूक करने के उद्देश्य से एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसका शुभारंभ मुख्य अतिथि मुनि की रेती थाने के इंस्पेक्टर आरके सकलानी ने दीप प्रज्वलित करके किया। मौके पर उन्होंने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि छात्र जिस उद्देश्य से स्कूल में आते हैं। उस उद्देश्य को पूरा करना ही छात्रों का मकसद होना चाहिए। इंटरनेट को पढ़ाई के लिए यूज करना सबसे बेहतर है। जबकि सोशल मीडिया से दूरी बनाना छात्रों के भविष्य के लिए कार कार साबित होता है। बताया लव अफेयर्स नशा जैसे अवगुणों से भी छात्रों को बचने की जरूरत है । दिमाग में पढ़ाई को गहराई से बसाने के लिए रात को जल्दी सोना और सुबह जल्दी उठकर पढ़ना लाभदायक होता है। कंपटीशन के इस दौर में छात्र आपस में प्रतियोगिताओं का आयोजन कर कैरियर बनाने के टिप्स को लेकर कंपटीशन खेल सकते हैं। जिससे उनके मेमोरी तेज होगी और फ्यूचर में आगे बढ़ने की संभावनाएं भी प्रबल होंगी। बताया कि पंजाब हरियाणा ऐसे राज्य हैं जहां नशा छात्रों के भविष्य को खोखला कर रहा है।
वर्तमान समय में गुमराह करने वाले लोग तो बहुत मिलेंगे, मगर करियर के प्रति जागरूक करने के लिए बहुत कम चेहरे सामने आते हैं। छात्रों को तय करना है कि वह अपना भविष्य बनाने के लिए किस राह पर चलना चाहते हैं। कार्यक्रम में ओ एम आई टी के निदेशक डॉ राजुल दत्त, प्रमोद उनियाल, डॉक्टर विकास गैरोला, डॉक्टर आम्रपाली, दीक्षा बत्रा, नूपुर रैना, दिशा धींगड़ा, हेमलता गुप्ता, अनिल राणाकोटी, मुकेश राणा
कोटी, योगेश लखेड़ा आदि उपस्थित रहे।

Share To:

Post A Comment: