ऋषिकेश/समाचार भास्कर - उत्तराखंड का नाम विश्व में रोशन करने वाले मास्टर शैफ सुरेंद्र नेगी का तीर्थनगरी पहुंचने पर भव्य स्वागत हुआ। इस दौरान राज्य मंत्री सहित सामाजिक संस्थाओं ने उन्हें प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित भी किया।
               शुक्रवार को विश्व मास्टर शेफ सुरेंद्र नेगी तीर्थ नगरी ऋषिकेश पहुंच रहे हैं। यह जानकारी लगते ही उनके समर्थक मिलने के लिए मधुबन आश्रम पहुंच गए। यहां उन्होंने सुरेंद्र नेगी के साथ सेल्फी ली और होटल इंडस्ट्री में जाने के टिप्स भी लिए। इस दौरान राज्यमंत्री कृष्ण कुमार सिंघल मधुबन आश्रम के स्वामी परमानंद मैत्री स्वयंसेवी संस्था की अध्यक्ष कुसुम जोशी उत्तराखंड लोक संस्कृति समिति के अध्यक्ष नरेंद्र मैथानी ने प्रशस्ति पत्र और भगवान कृष्ण की फोटो भेट कर सम्मानित किया। मौके पर सुरेंद्र नेगी ने कहा कि जिन विकट परिस्थितियों में उन्हें यह सफलता मिली है। उसके लिए कड़ी मेहनत की जरूरत है। होटल इंडस्ट्री में रोजगार के बहुत दरवाजे खुले हैं। उत्तराखंड के युवाओं को होटल इंडस्ट्री में रोजगार के लिए किस्मत आजमानी चाहिए। राज्य मंत्री ने कहा कि सुरेंद्र नेगी ने पूरे विश्व में उत्तराखंड का नाम रोशन किया है। इसके लिए वह बधाई के पात्र हैं। कुसुम जोशी ने कहा कि राज्य के युवाओं को सुरेंद्र नेगी से प्रेरणा लेनी चाहिए। स्वामी परमानंद देवी सुरेंद्र नेगी को अपना आशीर्वाद देते हुए उज्जवल भविष्य की कामना की है। नरेंद्र मैठाणी ने कहा कि सुरेंद्र नेगी का सम्मान करने के बाद वह खुद को भी सौभाग्यशाली समझ रहे हैं। क्योंकि राज्य का नाम विश्व में रोशन होने का मतलब है। की राज्य के उत्पादों पर विदेशियों कि नजर है और यह बहुत खास बात है।
Share To:

Post A Comment: