ऋषिकेश/समाचार भास्कर - लोगों को दुुध वाली चाय से छुटकारा दिलाने के उद्देश्य से वन प्रभाग दिव्य औषधियों से निर्मित "ब्रह्मकमल हर्बल टी" जल्दी ही बाजार में उतारने जा रहा है। खास बात यह है कि इसकी कीमत बेहद कम रखी जा रही है। जिससे हर वर्ग का आदमी चाय को अपनी किचन तक ले जा सके। 

यह जानकारी देते हुए प्रभागीय वनाधिकारी नरेंद्रनगर धर्म सिंह मीणा ने बताया कि मार्केट में विभिन्न प्रकार की ग्रीन टी, हर्बल टी उपलब्ध है। जो विदेशी प्रोडक्ट हैं। काफी महंगे रेट पर बाजार में उपलब्ध हैं। वह इतनी लाभकारी वह गुणकारी भी नहीं है। इसी को देखते हुए हर्बल गार्डन भद्रकाली मुनिकीरेती में विभाग ने विभिन्न प्रकार के हर्बल जड़ी बूटियों से निर्मित ब्रह्मकमल हर्बल टी बनानी शुरू की है। जो किडनी लीवर शुगर जोड़ों के दर्द मोटापा नस ब्लॉकेज और हार्ट पेशेंट के लिए बहुत ही लाभकारी सिद्ध होगी। पाचन क्रिया को दुरुस्त करने के लिए ऐसे हर्बल जड़ी बूटी भी हैं तो सर्वगुण सम्प्पन्न है। बुखार खांसी जुकाम तथा विभिन्न प्रकार के बीमारियों के लिए बहुत ही फायदेमंद है। बताया कि विभिन्न प्रकार से बीमारियों से ग्रसित लोगों को दूध वाली चाय का अमल है। हमारा प्रयास है कि दूध वाली चाय को छुड़ाकर सबको हर्बल टी पिलाएं। जिससे विभिन्न प्रकार से ग्रसित बीमारियों को दूर किया जा सके। बताया जल्दी ही चाय को बाजार में उतारा जाएगा।

Share To:

Post A Comment: