ऋषिकेश/समाचार भास्कर - ईमानदारी का परिचय देते हुए विक्रम ड्राइवर ने एक यात्री का रुपयों से भरा बैग स्वामी को लौटा दिया। जिसमे 23 हजार रुपये, मोबाइल, चैकबुक, चश्मा व अन्य जरूरी कागजात थे। बैग वापस मिलने पर स्वामी ने विक्रम चालक आभार व्यक्त किया है।

रविवार को गुजरात के गोदराज जिले से किशोर पाठी चौहान अपने 35 लोगों का एक ग्रुप ऋषिकेश घूमने आया। जिनका रुपयों से भरा विक्रम में छूट गया।विक्रम ड्राइवर संजय चौहान ने अपनी ईमानदारी का परिचय देते हुए फोन को चार्ज कर बैग मालिक के फोन से नंबर निकाल संपर्क साध कर विक्रम यूनियन मुनिकीरेती के कार्यालय बुलाकर उनका बैग से भरा सारा सामान लौटाया। बैग मालिक किशोर चौहान व उनके पुत्र गुंजन चौहान को उनका सामान मिलने से खुशी का ठिकाना नही रहा। कहा कि तीर्थनगरी ऋषिकेश के लोग बहुत ईमानदार है। कहा कि हमारे गुजरात मे रुपयों से भरा बैग क्या कुछ भी खोता तो नही मिलता।  वही विक्रम यूनियन के अध्यक्ष फेरु जगवानी ने बताया कि हमने अपने यूनियन के सभी स्टाफ व ड्राइवरों को सख्त निर्देश दिए है कि यात्री को किसी प्रकार की समस्या ना हो व किसी भी यात्री का कोई भी समान छूट जाए तो उसके मालिक को ढूंढ कर मालिक के सुपुर्द करे। ताकि विश्व प्रसिद्ध तीर्थनगरी की ओर से लोगों में एक अच्छा मैसेज जाए। मौके पर यूनियन के मुखिया कर्मचारी गंगा बहादुर ,नरेश कुमार वोहरा आदि मौजूद रहे।
Share To:

Post A Comment: