ऋषिकेश/समाचार भास्कर - थाना मुनिकीरेती में सूचना मिली की ओमकारानंद गायत्री वेद विद्यालय में आग लग गई है सूचना पर थानाध्यक्ष आर.के सकलानी तुरंत मय फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे तो देखा कि स्कूल में नहीं बल्कि स्कूल की झाड़ियों में आग लग गई है तुरंत पुलिसकर्मियों की सहायता से आग पर काबू पाने की कोशिश की तथा फायर ब्रिगेड को सूचना दे दी गई ।

आपको बता दें कि गुरुवार देर शाम पुलिस को संस्कृत विद्यालय में आग लगने की सूचना से सभी लोगों में हड़कंप मच गया तथा पुलिस ने मौके पर पहुंचकर कुछ हद तक आग पर काबू पाया थोड़ी देर बाद फायर ब्रिगेड की टीम भी मौके पर पहुंची परंतु उनका आग बुझाने पर कुछ फायदा नही हो सका क्योंकि स्कूल तक फायर ब्रिगेड की गाड़ी ही नहीं जा सकती थी मेन रोड से विद्यालय काफी नीचे था तथा ऐसी सड़क भी नही थी कि जिससे फायर ब्रिगेड की गाड़ी वहां तक पहुँच सके । आग  वाली जगह के समीप ही स्कूल का पुस्तकालय वह कंप्यूटर लाइब्रेरी था आग आगे ना फैले इस कारण पुलिस व स्थानीय लोगों ने काफी मशक्कत की तथा रात तक आग पर काबू पा लिया गया।

बता दें कि इसी विद्यालय में कुछ वर्ष पूर्व में भी भीषण आग लग गई थी जिससे विद्यालय का काफी सामान जलकर राख हो गया था उस समय भी यही समस्या थी कि फायर ब्रिगेड की गाड़ी कैसे वहां तक पहुंचेगी उस समय भी स्थानीय लोगों ने ही बमुश्किल आग पर काबू पाया था जिसमें उस स्कूल का पुस्तक कपड़े बिस्तर फर्नीचर अन्य सामान जलकर राख हो गया था ।स्थानीय बता रहे थें की तपोवन क्षेत्र में ऐसे बहुत से होटल वह सार्वजनिक स्थल हैं जहां पर आग लगने की स्थिति में फायर ब्रिगेड की गाड़ी का पहुंचना मुश्किल है पिछले वर्ष भी एक होटल के पांचवे मंजिल के छत पर बने रेस्टोरेन्ट में आग लगने से आग को बुझाने में काफी मसक्कत करनी पड़ी थी , फिर इनको फायर ब्रिगेड की तरफ से एनओसी कैसे मिल जाता है यह समझ में नहीं आता यह कौन सी गेटिंग सेटिंग होती है ।टीम में कांस्टेबसल संदीप कुमार ,कांस्टेबल पुष्पेंद्र कुमार ,कांस्टेबल अजय फायर टीम से एचसीपी  राकेश ममगाईं ,ड्राइवर  शिव कुमार ,कुलभूषण सिंह नरेंद्र कुमार आदि मौजूद थे ।

Share To:

Post A Comment: