ऋषिकेश - विश्वविख्यात चार धाम यात्रा के प्रवेश द्वार ऋषिकेश के रेलवे स्टेशन पर दिव्यांगों के लिए व्हील चेयर की व्यवस्था तो विभाग ने की है। लेकिन एक प्लेटफार्म से दूसरे प्लेटफॉर्म पर जाने के लिए विभाग रैंप बनाना भूल गया है। प्लेटफॉर्म नंबर 1 से प्लेटफार्म नंबर 2 और 3 पर जाने के लिए दिव्यांगों को या तो गोद में उठाकर ले जाया जाता है या फिर चार-पांच आदमी जान जोखिम में डालकर व्हील चेयर को पार कराते हैं। रैंप नहीं होने से दिव्यांग परेशान हो रहे हैं। ऋषिकेश की दिव्यांग नीरजा गोयल इस मामले में रेल मंत्री को एक ज्ञापन भेजने के लिए रेलवे स्टेशन के चक्कर काट रही हैं। उनका आरोप है कि स्टेशन अधीक्षक अपने कक्ष से लगातार नदारद मिल रहे हैं। नीरजा गोयल का कहना है कि देश के प्रधानमंत्री दिव्यांगों के लिए उत्थान की बात कर रहे हैं। जबकि दिव्यांगों के लिए आज भी कई स्टेशन ऐसे हैं जहां व्हील चेयर तक की व्यवस्था विभाग ने नहीं की है।
Share To:

Post A Comment: