ऋषिकेश/समाचार भास्कर - चारधाम यात्रा पर डग्गामार वाहनों का संचालन कितनी तेजी से हो रहा है। इसकी बानगी उस समय देखने को मिली जब ऋषिकेश में तीसरे दिन भी पंजाब की एक बस अवैध रूप से यात्रियों को चार धाम पर ले जाते हुए पकड़ी गई।
     इन दिनों चार धाम यात्रा लगातार तेजी पकड़ रही है इसी का लाभ लेने के लिए डग्गामार वाहन भी यात्रियों को चार धाम यात्रा पर ले जाकर मुनाफा कमाने की फिराक में लगे हुए हैं। जबकि संभागीय परिवहन निगम और संयुक्त रोटेशन समिति अपने अपने स्तर से डग्गामार वाहनों के खिलाफ चेकिंग अभियान चला रहे हैं। इन 3 दिनों में तीन बसें डग्गामारी करते हुए पकड़ी गई हैं। जिन्हें रोटेशन समिति ने पकड़ा। जिसके बाद संभागीय परिवहन विभाग ने तीनों बसों को कब्जे में लेकर सीज कर दिया। इस दौरान यात्रा पर जाने वाले तीर्थ यात्रियों को दूसरे वाहन से गंतव्य की ओर रवाना किया गया है। खास बात यह है कि ट्रैवल एजेंटों को इस बात की जानकारी है कि इस प्रकार से चार धाम यात्रा पर यात्रियों को भेजना अवैध है। बावजूद इसके वह अपनी मनमानी से पीछे नहीं हट रहे हैं। संभागीय परिवहन अधिकारी पंकज श्रीवास्तव ने बताया कि किसी भी राज्य की बस अपने शहर से ही यात्रियों को लेकर चार धाम यात्रा पर जा सकती है। मगर जितनी भी बस अब तक पकड़ी गई है वह अपने शहरों को छोड़ हरिद्वार से यात्रियों को बैठाकर चार धाम यात्रा पर जाने के लिए निकली थी। जिससे परमिट शर्तों का उल्लंघन हो रहा था।
Share To:

Post A Comment: