ऋषिकेश/समाचार भास्कर - नगर निगम की नाक के नीचे चंद्रभागा नदी के किनारे अवैध रूप से मांस की बिक्री हो रही है। मीडिया ने जब इसकी जानकारी निगम को दी तो विभाग हरकत में आ गया। तत्काल मौके पर जेसीबी से अवैध मांस बेचने वालों की दुकानों को तोड़ डाला।
सोमवार की सुबह स्थानीय लोगों की सूचना पर मीडिया कर्मी चंद्रभागा नदी के किनारे बस्ती बस्ती में पहुंचे। जहां उन्होंने देखा कि दो घरों के अंदर मछली और मुर्गे का मीट बेचा जा रहा है। इसकी सूचना मीडिया कर्मियों ने मेयर को दी। जिसके बाद विभाग हरकत में आया और एक टीम अवैध मांस की बिक्री को रोकने के लिए नदी किनारे भेज दी। इस दौरान पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। नगर निगम और पुलिस को देख मांस की बिक्री करने वाले संचालक फरार हो गए। जिसके बाद टीम ने मामले में पड़ताल की और मांस की बिक्री करने वाले घरों को जेसीबी से ध्वस्त कर दिया। मौके पर सफाई निरीक्षक धीरेंद्र सेमवाल ने बताया कि निगम क्षेत्र में मांस की बिक्री प्रतिबंधित है। इस नियम को जो भी तोड़ेगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। एसआई चिंतामणि ने बताया कि सुरक्षा की दृष्टि से नगर निगम ने पुलिस की तैनाती क्षेत्र में मांगी थी। जिसकी वजह से पुलिस मौके पर पहुंची। बताया बिना किसी विरोध के नगर निगम ने मांस की बिक्री करने वाले घरों को छोड़ दिया है। मौके पर मांस भी जप्त किया गया है।
Share To:

Post A Comment: